Home » Languages » Hindi (Sr. Secondary) » Hindi Short Story “Buri Sangat”, “बुरी संगत” Hindi Laghu Katha for Class 9, Class 10 and Class 12.

Hindi Short Story “Buri Sangat”, “बुरी संगत” Hindi Laghu Katha for Class 9, Class 10 and Class 12.

बुरी संगत

Buri Sangat

एक धनी सेठ था। उसका एक ही बेटा था। उसका नाम त्रिशूल था। त्रिशूले एक अच्छा लड़का था। वह कठिन परिश्रम करता था। वह अपनी कक्षा में हमेशा प्रथम आता था। एक बार वह बुरी संगति में पड़ गया और लापरवाह हो गया। उसने स्कूल से भागना शुरु कर दिया।

उसका पिता बहुत दुःखी हुआ। उसे एक उपाय सूझा वह बाजार से सेब खरीद लाया। उसने साथ ही एक खराब सेब भी खरीद लिया। उसने त्रिशूल से कहा कि ये सब सेब एक टोकरी में रख दे।

पिता ने अगले दिन त्रिशूल को बुलाया और उससे टोकरी लाने को कहा। टोकरी में रखे सभी सेब खराब हो चुके थे, त्रिशूल को यह देखकर बड़ी हैरानी हुई तभी उसके पिता ने कहा – एक खराब सेबने सभी अच्छे सेबों को भी सड़ादिया, इसी तरह बुरी संगति में व्यक्ति भी बर्बाद हो जाता है। त्रिशूल ने सबक सीखा। उसने अपनी बुरी संगत छोड़ दी और फिर से एक अच्छा लड़का बन गया।

About

The main objective of this website is to provide quality study material to all students (from 1st to 12th class of any board) irrespective of their background as our motto is “Education for Everyone”. It is also a very good platform for teachers who want to share their valuable knowledge.

commentscomments

  1. SAATVIK KAUSHAL says:

    VERY HELPFUL 👍👍

  2. SUHANI says:

    Nice , It’s very helpful to me I like your story and I advise you that you also study from here !!!

  3. Dhani says:

    It is seriously very nice story and it is helpful tooo…

  4. Luvpreet says:

    Its a very nice story and it is helpful in your exams

  5. Ananya says:

    Nice , It’s very helpful to me I like your story and I advise you that you also study from here !!!

Leave a Reply

Your email address will not be published.