Home » Archive by category "10th Class" (Page 6)

Hindi Letter “Shaher me Ghatnao ke sakshi ki hridayhinta par sampadak ko patra”, “घटनाओं के साक्षी की हृदयहीनता पर संपादक को पत्र”

patra lekhan
घटनाओं के साक्षी की हृदयहीनता पर संपादक को पत्र परीक्षा भवन दिनांक… सेवा में, कार्यकारी संपादक, दैनिक भास्कर, जयपुर, राजस्थान   विषयः घटनाओं के साक्षी की हृदयहीनता   मान्यवर! मैं जयपुर रेलवे स्टेशन पर घटी एक दुर्घटना की ओर आपका ध्यान खींचना चाहती हूँ। कल मैं अपने दफ्तर आ रही थी। मुझे स्टेशन के बाहर सड़क पर एक युवक खून से सना दिखा। पूछने पर पता चला कि अभी दस मिनट...
Continue reading »

Hindi Letter “Andhvishvaas phelane vale TV chennal par rok ke sambandh me Prasaran Mantri ko Patra”, “अंधविश्वास फैलाने वाले टीवी चैनल पर रोक के संबंध में प्रसारण मंत्री को पत्र”

patra lekhan
अंधविश्वास फैलाने वाले टीवी चैनल पर रोक के संबंध में प्रसारण मंत्री को पत्र परीक्षा भवन दिनांक…….. सेवा में, मंत्री महोदय सूचना प्रसारण मंत्रालय नई दिल्ली -110001   विषय : अंधविश्वास फैलाने वाले टीवी चैनल पर रोक के संबंध में।    मान्यवर! निवेदन यह है कि मैं आपका ध्यान टी.वी. चैनलों पर दिखाए जाने वाले ऐसे कार्यक्रमों की ओर आकर्षित करना चाहता है जिनमें । भाँति-भाँति के अंधविश्वास और भ्रांतियाँ होती...
Continue reading »

Hindi Letter “FIR na Likhe jane ki shikayat police ayurkt ko patra”, “FIR न लिखे जाने की शिकायत पुलिसआयुक्त को पत्र”

patra lekhan
FIR न लिखे जाने की शिकायत पुलिसआयुक्त को पत्र परीक्षा भवन दिनांक…… सेवा में, पुलिस आयुक्त, मॉडल टाऊन, दिल्ली 110009   विषय : FIR न लिखे जाने की शिकायत   प्रिय महोदय! रविवार की शाम जब मैं सब्जी लेने के लिए गरु तेगबहादुर नगर की सब्जी मण्डी पहुंचा और सब्जी खरीदकर अपने घर गुजरांवाला टाऊन के लिए रिक्शा लेने सड़क किनारे खड़ा हुआ तो पीछे से एक तेज़ आ रही कार ने...
Continue reading »

Hindi Letter “Media me Breaking News ki Pramanikta par Sampadak ko patra”, “मीडिया में ब्रेकिंग न्यूज की प्रामाणिकता पर संपादक को पत्र”

patra lekhan
मीडिया में ब्रेकिंग न्यूज की प्रामाणिकता पर संपादक को पत्र   परीक्षा भवन दिनांक……. सेवा में, कार्यकारी सम्पादक दैनिक हिन्दस्तान टाईम्स कस्तूरबा गाँधी मार्ग नई दिल्ली।   विषय : मीडिया में ब्रेकिंग न्यूज की प्रामाणिकता पर ।    महोदय! आजकल समाचारपत्रों, इंटरनेट व टीवी पर पीत पत्रकारिता दिखने लगी है। मीडिया के जरिए प्रायः किसी व्यक्ति विशेष के निजी जीवन में झाँककर चटपटी खबरें तैयार कर छापी-दिखाई जाती हैं। ये इतनी नमक-मिर्च लगाकर...
Continue reading »

Hindi Letter “FIR Darj karane ke Sandharbh me Police Commissioner ko Patra”, “एफ. आई. आर. दर्ज कराने के संदर्भ में पुलिस कमिश्नर को पत्र ”

patra lekhan
एफ. आई. आर. दर्ज कराने के संदर्भ में पुलिस कमिश्नर को पत्र   परीक्षा भवन दिनांक…. सेवा में, पुलिस कमिश्नर जनकपुरी दिल्ली   विषयः एफ. आई. आर. दर्ज कराने के संदर्भ में ।    महोदय,   मैं आपका ध्यान लोक निर्माण विभाग के एक अधिकारी के संबंध में खींचना चाहता हूँ। मेरे पिताजी सड़क निर्माण का काम करते हैं। कल वे इस दफ्तर में अपना चैक लेने के लिए गए। मैं...
Continue reading »

Hindi Letter “TV karyakramo ke girte star par chinta prakat karte hue Doordarshan Director ko patra”, “टी. वी. कार्यक्रम के गिरते स्तर पर चिंता प्रकट करते हुए दूरदर्शन निदेशक को पत्र ”

patra lekhan
टी. वी. कार्यक्रम के गिरते स्तर पर चिंता प्रकट करते हुए दूरदर्शन निदेशक को पत्र परीक्षा भवन दिनांक…… सेवा में, केंद्र निदेशक दूरदर्शन मंडी हाउस नई दिल्ली-110001   विषय : कार्यक्रम के गिरते स्तर पर चिंता   महोदय! मैं आपका ध्यान पिछले महीने से प्रसारित होने वाले कुछ कार्यक्रमों की ओर आकर्षित करना चाहता हूँ। सबसे पहले मैं आपको यह बताना चाहता हूँ समाचारों का स्तर आजकल काफी गिर गया है।...
Continue reading »

Hindi Letter “Cricket ko chod anya khelo ke prati Udasinta ke sandharbh me Smpadak ko Patra”, “क्रिकेट को छोड़ अन्य खेलों के प्रति उदासीनता के संदर्भ में संपादक का पत्र”

patra lekhan
क्रिकेट को छोड़ अन्य खेलों के प्रति उदासीनता के संदर्भ में संपादक का पत्र परीक्षा भवन दिनांक….. सेवा में, कार्यकारी संपादक दैनिक अमर उजाला नोएडा (उत्तर प्रदेश)   विषयः अन्य खेलों के प्रति उदासीनता के संदर्भ में   महोदय! जैसा कि आप जानते हैं कि भारतीय युवकों में क्रिकेट के प्रति भारी उत्साह है। यह इतना बढ़ गया है कि उसे याद ही नहीं है कि क्रिकेट के अतिरिक्त भी बहुत-से...
Continue reading »

Hindi Letter “Gaon me Hospital kholne ka sujhav dete hue sampadak ko patra”, “गाँवों में अस्पताल खोलने का सुझाव देते हुए संपादक को पत्र”

patra lekhan
गाँवों में अस्पताल खोलने का सुझाव देते हुए संपादक को पत्र परीक्षा भवन दिनांक……. सेवा में, कार्यकारी संपादक, राजस्थान पत्रिका, जयपुर,   विषय : गाँवों में अस्पताल खोलने का सुझाव   महोदय, मैं आपका ध्यान श्रीगंगा नगर से तीस-चालीस किलोमीटर बसे कुछ गाँवों की ओर दिलाना चाहता हूँ। मैं एक एन.जी.ओ.की ओर से नियुक्त होकर सर्वे के लिए जब इन गाँवों में पहुंचा तो देखा यहाँ के अधिकांश गाँवों में चिकित्सा...
Continue reading »