Home » Posts tagged "Hindi Nibandh" (Page 5)

Hindi Essay, Paragraph, Speech on “Hamara Rashtradhwaj Tiranga”, “हमारा राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा” Complete Essay for Class 9, 10, 12 Students.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
हमारा राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा Hamara Rashtradhwaj Tiranga राष्ट्रीय ध्वज किसी भी राष्ट्र की स्वतंत्रता तथा सत्ता का प्रतीक होता है। सभी देशों का अपना एक राष्ट्रीय ध्वज होता है। भारत का भी अपना राष्ट्रीय ध्वज है। इसे तिरंगा कहा जाता है। इसमें तीन रंगों की पट्टियाँ हैं-केसरिया, सफेद तथा हरी। इन पट्टियों के अपने सांकेतिक अर्थ हैं। केसरिया पट्टी त्याग की निशानी है। सफेद पट्टी शुद्धता तथा हरी पट्टी उन्नति एवं...
Continue reading »

Hindi Essay, Paragraph, Speech on “Vidyalaya mein Mere Pehla”, “विदयालय में मेरा पहला दिन” Complete Essay for Class 9, 10, 12 Students.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
विदयालय में मेरा पहला दिन Vidyalaya mein Mere Pehla मनुष्य के जीवन में शिक्षा का अत्यधिक महत्त्व है तथा यह मनुष्य को नौकरी या रोजगार दिलाने मे ही सहायक नहीं होती बल्कि इंसान को जीवन जीने के बेहतर तौर-तरीके भी सिखाती है। प्राचीनकाल में पाठशालाओं, गुरुकुलों तथा मदरसों में शिक्षा प्रदान की जाती थी, किंतु वर्तमान समय में विद्यालय, कॉलेजों, पब्लिक स्कूल शिक्षा प्रदान करने के मुख्य केंद्र हो गए हैं।...
Continue reading »

Hindi Essay, Paragraph, Speech on “Mere Vidyalaya Ka Chaprasi”, “मेरे विदयालय का चपरासी” Complete Essay for Class 9, 10, 12 Students.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
मेरे विदयालय का चपरासी Mere Vidyalaya Ka Chaprasi हमारे विद्यालय में मोहन नाम का एक चपरासी है। वह विद्यालय में घंटी बजाने का कार्य करता है। उसकी आय बत्तीस वर्ष है। वह अत्यंत फुर्तीला तथा चुस्त है। वह अपने काम के लिए सदैव सजग रहता है। उसकी लंबाई लगभग छ: फुट है तथा उसका शरीर बहुत स्वस्थ है। वह विद्यालय के बने मकानों में अपने परिवार के साथ रहता है। उसके...
Continue reading »

Hindi Essay, Paragraph, Speech on “Mobile Kranti”, “मोबाइल क्रांति” Complete Essay for Class 9, 10, 12 Students.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
मोबाइल क्रांति Mobile Kranti आजकल मोबाइल से कौन परिचित नहीं है? देहातों में कम किंतु शहरों का बच्चा-बच्चा इससे परिचित है। भारत में मोबाइल का प्रचलन बड़ी तेजी से बढ़ रहा है। इसे देखकर सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है कि भारत जल्द ही इस मामले में संसार के अन्य देशों को बहुत पीछे छोड़ देगा। सस्ते मोबाइल सेट बाजार में आने और कॉल दरों में लगातार हो रही कमी...
Continue reading »

Hindi Essay, Paragraph, Speech on “Computer”, “कंप्यूटर” Complete Essay for Class 9, 10, 12 Students.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
कंप्यूटर Computer आधुनिकतम आविष्कारों में कंप्यूटर एक अद्भुत आविष्कार है। क्या रेडियो, क्या दूरदर्शन, क्या चलचित्र, क्या संचार माध्यम, क्या अंतरिक्ष कार्यक्रम, क्या युद्ध उपकरण सभी के संचालन में आज सर्वत्र कंप्यूटर का उपयोग अनिवार्य हो गया है। कंप्यूटर एक ऐसा यंत्र है, जिसके माध्यम से गणना संबंधी बहुत बड़ा काम अत्यंत आसानी से क्षणमात्र में हो सकता है। यही कारण है कि बड़े-बड़े कार्यालयों एवं संरचनाओं में इसका उपयोग अपेक्षित...
Continue reading »

Hindi Essay, Paragraph, Speech on “Paryavaran”, “पर्यावरण” Complete Essay for Class 9, 10, 12 Students.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
पर्यावरण Paryavaran ‘पर्यावरण’ शब्द ‘परि’ तथा ‘आवरण’ शब्दों के संयोग से बना है। ‘परि’ का अर्थ है चारों ओर एवं आवरण’ का अर्थ होता है आच्छादन या घिरा हुआ। अतः पर्यावरण का अर्थ हुआ चारों ओर का वातावरण। अपने आस-पास की हवा, जल तथा अन्य सभी वस्तुओं को ‘पर्यावरण’ कहते हैं। इसकी भौतिक, रासायनिक तथा जैविक विशेषताओं में अवांछनीय परिवर्तन ही प्रदूषण है। प्रदूषण से जीव-जंतुओं, पौधों एवं मानव जाति को...
Continue reading »

Hindi Essay, Paragraph, Speech on “Mera Pirya Khel Football”, “मेरा प्रिय खेल फुटबॉल” Complete Essay for Class 9, 10, 12 Students.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
मेरा प्रिय खेल फुटबॉल Mera Pirya Khel Football भूमिका-स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क का निवास होता है। हमारा शरीर खेल-कूद या व्यायाम से स्वस्थ रहता है तथा हमारा मस्तिष्क अच्छी-अच्छी पुस्तकों के अध्ययन से स्वस्थ रहता है। खेल दो प्रकार के होते हैं-घर के अंदर खेले जानेवाले तथा घर के बाहर मैदानों में खेले जाने वाले खेल। घर में खेले जाने वाले खेल हैं-कैरम, लुडो, शतरंज, टेबल टेनिस आदि। बाहर...
Continue reading »

Hindi Essay, Paragraph, Speech on “Anushasan”, “अनुशासन” Complete Essay for Class 9, 10, 12 Students.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
अनुशासन Anushasan अर्थ-नियमानुकूल आचरण अनुशासन है। ये नियम परिवार, समाज और राष्ट्र के साथ स्वयं को मर्यादित रखने के लिए होते हैं। श्रेष्ठजनों ने इसके लिए नियम बनाए हैं। देश और काल के अनुसार उनमें परिवर्तन आते रहते हैं, किंतु वे सभी देश और समय के अनुकूल होते हैं। अनुशासन की शुरुआत वस्तुतः अपने प्रशासन से होती है। क्षेत्र और महत्त्व-संयमपूर्वक जीवन-यापन ही अपने पर शासन है। हमारे ऋषि-मुनियों ने इसके...
Continue reading »