Home » Posts tagged "Hindi essays" (Page 4)

Hindi Essay on “Samrat Ashoka” , ”सम्राट अशोक” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
सम्राट अशोक Samrat Ashoka                 सम्राट अशोक का नाम भारतीय इतिहास के महान शासकों तथा योद्धाओं में अग्रणी है। ईसा पूर्व सन् 272 ई0 में अशोक ने मग्ध प्रदेश का राज्य सँभाला था। इसके पश्चात् अपने 40 वर्षोंे के शासनकाल में उन्होने जो ख्याति अर्जित की वह अतुलनीय है। वे एक अद्वितीय शासक के रूप में विख्यात हैं जिन्होने केवल मगध में ही नहीं अपितु भारत के कोन-कोने में सत्य और...
Continue reading »

Hindi Essay on “Meri Pratham Rail Yatra” , ”मेरी प्रथम रेल यात्रा” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
मेरी प्रथम रेल यात्रा Meri Pratham Rail Yatra                 किसी भी यात्रा का एक अपना अलग ही सुख है। यात्रा करना तो बहुत से लोगों की एक पसंद है। यात्रा के अनेक उपलब्ध साधनों में से रलयात्रा का अनुभव एक अनोखा रोमांच एंव अनुभव प्रदान करता है। मेरी प्रथम रेल यात्रा तो आज भी मेरे लिए अविस्मरणीय है क्योंकि मेरी प्रथम रेलयात्रा ने रोमांच के साथ ही मुझे एक ऐसा मित्र...
Continue reading »

Hindi Essay on “Yatayat ke Pramukh Sadhan” , ”यातायात के प्रमुख साधन” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
यातायात के प्रमुख साधन Yatayat ke Pramukh Sadhan मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है। नए-नए संबंध स्थापित करना, देशाटन पर जाना, नवीनतम की खोज करना आदि की प्रवृत्ति उसमें सदैव से ही रही है। उसकी इन्हीं इच्छाओं व आकाक्षाओं ने विश्व में असंभव लगने वाले अनेक कार्योंे को संभव कर दिखाया है। यातायात के नवीनतम साधन किसी आश्चर्य से कम नहीं हैं जिनके माध्यम से आज मनुष्य महीनांे तथा वर्षों में तय...
Continue reading »

Hindi Essay on “Mahanagar Ka Jeevan” , ”महानगर का जीवन” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
महानगर का जीवन Mahanagar Ka Jeevan महानगर अर्थात् ऊँची-ऊँची इमारतों, बड़े-बड़े कल कारखानों, दुकानों तथा दौड़ते वाहनों आदि से पूरित घनी आबादी वाला शहर। न्यूयार्क, वांशिगटन, लंदन, टोक्यो, पेरिस आदि विश्व के कुछ प्रमुख महानगर हैं। हमारे भारतवर्ष में दिल्ली, कोलकता, मुंबई तथा चेन्नई को महानगर की संज्ञा दी गई है। महानगरीय जीवन अनेक रूपों में मनुष्य के लिए किसी वरदान से कम नहीं है पंरतु वहीं दूसरी ओर यह त्रासदी...
Continue reading »

Hindi Essay on “Panchayati Raj Vidheyak” , ”पंचायती राज विधेयक ” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
पंचायती राज विधेयक (तिहत्तरवाँ संविधान संशोधन विधेयक) Panchayati Raj Vidheyak देश में पंचायती राज व्यवस्था को लाने हेतु पं0 नेहरू के समय से ही बात चल रही थर परंतु उसे ठोस आधार प्रदान करने की कारवाई आधे-अधूरे ढंग से ही हो पाई थी। इस कमी की पूर्ति के लिए एक विधेयक को लोकसभा में पारित होने के लिए 24 अप्रैल, 1993 को रखा गया। पंचायती राज विधेयक पारित करने का प्रमुख...
Continue reading »

Hindi Essay on “Bhartiya Gramin Jeevan” , ”भारतीय ग्रामीण जीवन” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
भारतीय ग्रामीण जीवन Bhartiya Gramin Jeevan भारत एक विशाल जनसंख्या वाला देश है जिसका एक बहुत बड़ा भाग आज भी गाँवों मे निवास करता है। ये लोग आज भी अपनी आजीविका के लिए पूर्ण रूप से कृषि पर निर्भर हैं। वास्तविक रूप ये यदि देखा जाए तो भारत की अर्थव्यवस्था का प्रमुख आधार कृषि ही है। गाँवों मे लोग प्रायः सादा जीवन व्यतीत करते हैं। भारतीय ग्राम्य जीवन की जब भी...
Continue reading »

Hindi Essay on “Bharatiya Gaon” , ”भारतीय गाँव” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
भारतीय गाँव Bharatiya Gaon भारतीय एक कृषि प्रधान देश है। प्राचीन काल से ही हमारे देश की अर्थव्यवस्था का प्रमुख आधार कृषि ही रहा है। कृषि पर हमारी निर्भरता के साथ ही यह भी तथ्य हमारे लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है कि देश की सत्तर-प्रतिशत से भी अधिक जनसंख्या गाँवों मे ही निवास करती है। किसी कवि ने सत्य ही लिखा है कि – है अपना हिंदुस्तान कहाँ, यह बसा हमारे गाँवों...
Continue reading »

Hindi Essay on “Aids” , ”एड्स ” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
एड्स AIDS एड्स एक जानलेवा बीमारी है जो धीरे-धीरे समूचे विश्व को अपनी गिरफ्त में लेती जा रही है। दुनियाभर के चिकित्सक व वैज्ञानिक वर्षों से इसकी रोकथाम के लिए औषधि की खोज में लगे हैं परंतु अभी तक उन्हें सफलता नहीं मिल सकी है। पूरे विश्व में एड्स को लेकर तरह-तरह की चर्चाएँ हैं सभी बेसब्री से उस दिन की प्रतीक्षा कर रहे हैं जब वैज्ञानिक इसकी औषधि की खोज...
Continue reading »