Home » Posts tagged "Hindi Essay" (Page 2)

Hindi Essay on “Bhrashtachar ke Karan evm Nivaran” , ”भ्रष्टाचार के कारण एवं निवारण” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
भ्रष्टाचार के कारण एवं निवारण Bhrashtachar ke Karan evm Nivaran भ्रष्टाचार केवल भारत में ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण संसार में विद्यमान है। यह दीगर बात है कि कहीं इसका प्रसार सीमित है तो कहीं असीमित। भ्रष्टाचार का अर्थ है नीति के स्थापित प्रतिमानों से विलग होना। किन्तु एक समाजशास्त्रीय अध्ययन से उत्पन्न अवधारणा के रूप में भ्रष्टाचार का तात्पर्य व्यक्ति द्वारा किए जाने वाले किसी भी ऐसे अनुचित कार्य से है जिसे...
Continue reading »

Hindi Essay on “Baba Sahab Dr. Bhim Rao Ambedkar” , ”बाबासाहब डॉ. भीवराव अम्बेडकर” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
बाबासाहब डॉ. भीवराव अम्बेडकर Baba Sahab Dr. Bhim Rao Ambedkar  भीमराव अम्बेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को मध्य प्रदेश के महू नामक शहर में हुआ था, जहां उनके पिता श्रीराम जी सेना में सूबेदार मेजर थे। भीमराव अपने पिता की 14 वीं संतान थे। सेना से अवकाश ग्रहण कर श्रीराम जी मुम्बई आ गए और भीमराव का दाखिला मुम्बई के ही एलफिन्सटन हाई स्कूल में करा दिया। इसी बीच भीमराव...
Continue reading »

Hindi Essay on “Badh – Karan aur Prabandh” , ”बाढ़ – कारण और प्रबंधन” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
बाढ़ – कारण और प्रबंधन Badh – Karan aur Prabandh बाढ़ का सामान्य अर्थ है किसी नदी के जलस्तर में यकायक बढ़ोत्तरी और परिणामस्वरूप निचले इलाके में पानी भर जाना। बाढ़ अकेली एक ऐसी प्राकृतिक आपदा रही है जिसके कारण इस धरती से कुछ मानव सभ्यताएं सामाप्त होती जा रही हैं। बाढ़ सर्वाधिक आवृत्ति एवं सबसे अधिक नुकसान पहुंचाने वाली प्राकृतिक आपदा है। इसकी परिणति मृत्यु, विनाश विकृति और विस्थापन के...
Continue reading »

Hindi Essay on “Bal Shramik Samasya” , ”बल श्रमिक समस्या” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
बल श्रमिक समस्या Bal Shramik Samasya  भारत एक विकासशील देश है। स्वतंत्रता-प्राप्ति के बाद भारत में आम जनता की गरीबी हटाने के लिए अनेक वृहद एवं सीमित योजनाएं समय-समय पर बनती र्गईं। फिर भी गरीबी की मान्य सीमा रेखा से भी निचली सतह पर जीवन जीने को विवश लोगों की संख्या कम नहीं हो सकी। बाल श्रमिक समस्या का सम्बन्ध मुख्यतया गरीबी और दो वक्त की रोटी जुटाने की प्रक्रिया के...
Continue reading »

Hindi Essay on “Bird Flu” , ”बर्ड फ्लू” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
बर्ड फ्लू Bird Flu                 एवियन इन्फ्लूएंजा को ‘बर्ड फ्लू’ भी कहते हैं। यह छूत की बीमारी है लेकिन मानव से सम्बन्धित नहीं है। इसका प्रभाव सबसे अधिक पक्षियों पर पड़ता है और उसके बाद कमोबेश पशुओं में भी प्रभाव डालता है। पशुओं में भी विशेष रूप से ‘सूअर’ इससे प्रभावित होते हैं। पक्षियों में भी महामारी के रूप में इसका प्रत्यक्ष अनुभव मुर्गियों में किया जा सकता है। घरेलू मुर्गी...
Continue reading »

Hindi Essay on “Puara Yajana” , ”प्यूरा योजना ” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
प्यूरा योजना  Puara Yajana                                 Providing Urban Amenities to Rural Areas –  अरबन एमिनिटीज इन रूरल एरिया का संक्षिप्त रूप है-प्यूरा। इसे हिन्दी में कहा जा सकता है। -’गा्रमीण क्षेत्रों में शहरी सुविधाएं उपलब्ध कराना’। इस योजना का उद्देश्य पहचाने गए गा्रमीण क्षेत्रों में शहरी सुविधाओं के सृजन और आधुनिक किफायती सम्पर्क के माध्यम से गा्रमीण-शहरी अंतर को दूर करना है। ’प्यूरा’ का मूल तथ्य है कि एक शहर के इर्द-गिर्द...
Continue reading »

Hindi Essay on “Poshahar” , ”पोषाहार” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
पोषाहार Poshahar शरीर का स्वस्थ रहना जीवन की बुनियादी आवश्यकता है। रोगाी व्यक्ति का जीवन स्वस्थ आचार-विचार के अभाव में बोझ बनकर नष्ट हो जाता है। जिस देश के नागरिक स्वस्थ नहीं होते वह देश कभी उन्नति नहीं कर सकता । यही कारण है कि प्रत्येक राष्ट्र अपने नागारिकों के पोषाहार के स्तर को अच्छे से अच्छा बनाए रखने की चेष्टा करता है। पोषाहार का सबसे बड़ा महत्व इस बात में...
Continue reading »

Hindi Essay on “Nishastrikaran” , ”निःशस्त्रीकरण” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
निःशस्त्रीकरण Nishastrikaran                 निःशस्त्रीकरण का अभिप्राय है घातक शस्त्रास्त्र पर नियंत्रण रखना और शस्त्रों की बढ़ती संख्या को रोकना। विश्व-शांति का मूल उपाय निःशस्त्रीकरण में ही निहित है। आज विश्व शस्त्रों के अम्बार के नीचे दमघोंटू परिस्थिति में पड़ा हुआ है। विज्ञान ने इतने शक्तिशाली बमों का निर्माण कर लिया है कि विश्व की शांति के लिए खतरा पैदा हो गया है। प्रधानमंत्री नेहरू ने आधुनिक अस्त्रो की भीषणता का वर्णन...
Continue reading »