Home » Languages » Archive by category "Hindi (Sr. Secondary)" (Page 3)

Hindi Essay on “Prakritik Aapda Tsunami” , ”प्राकृतिक आपदा सुनामी ” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
प्राकृतिक आपदा सुनामी  Prakritik Aapda Tsunami ‘सुनामी’ पिछले कुछ वर्षों में काफी चर्चा में रहा। लेकिन यह दीगर बात है कि अब भी लोग ‘सुनामी’ का सही मतलब नहीं समझ पा रहे हैं। लेकिन प्रत्यक्षतः यह अनुभव करते हैं कि समुद्र में जोरदार तूफान आया जिसमंे लाखांे लोग जान से हाथ धो बैठे। ‘सूनामी’ एक जापानी शब्द है जो सु$नामी (दो शब्दों के योग से बना है।) जिसका अलग-अलग अर्थ है...
Continue reading »

Hindi Essay on “Sukha : Karan evm Prabandhan” , ”सूखा: कारण एवं प्रबन्धन” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
सूखा: कारण एवं प्रबन्धन Sukha : Karan evm Prabandhan   सूखा मानव द्वारा प्रकृति के मूल स्वरूप को परिवर्तित करने का परिणाम है। वनोन्मूलन, भू-जल का अति दोहन, जल संभरण को महत्त्व न देना, बड़े-बड़े जलाशयांे को पाटकर खेती के काम में लाना इत्यादि कारणों से जल स्त्रोतों की गुणवत्ता में ह्रास हुआ। फलस्वरूप अनेक स्थानों पर सूक्ष्म परिवर्तन से मानसून की स्वाभाविक क्रियाशीलता प्रभावित हूई। सूखे के लिए निम्नलिखित कारण...
Continue reading »

Hindi Essay on “Asean : Purv ki Aur Dekho” , ”आसियान: ‘पूर्व की ओर देखोे’ ” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
आसियान: ‘पूर्व की ओर देखोे’  Asean : Purv ki Aur Dekho                                   ’पूर्व की ओर देखोे’ नीति का सम्बन्ध ’आसियान’ ये है। आसियान के कुल 24 सदस्य हैं। स्थायी सदस्य हैं-सिंगापुर, मलेशिया, इंडोनेशिया, थाईलैंड, ब्रुनेई, म्यांमार, कम्बोडिया, वियतनाम, फिलीपींस और लाओस। अस्थायी सदस्य हैं- अमेरिका, चीन, जापान, भारत, कोरिया तथा यूरोपीय यूनियन के देश। पाकिस्तान को भी आसियान का अस्थायी सदस्य इस शर्त पर बनाया गया है कि वह इसके...
Continue reading »

Hindi Essay on “Panchayati Raj Vyavastha” , ”पंचायती राज व्यवस्था” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
पंचायती राज व्यवस्था Panchayati Raj Vyavastha                   पंचायती राज यानी ’पंच परमेश्वर’ का एक उत्कृष्ट विचार भारत को विरासत में मिला है। चूंकि भारत गांवों का देश है, इसलिए गांवों का समग्र विकास ही यहां लोकतंत्र की सफलता की कसौटी है। इस संदर्भ में जे.एस. मिल का कथन उपयुक्त है-’’सामाजिक राज्य की सभी आवश्यकताओं को पूरी तरह से पूर्ण करने वाला शासन वहां से हो सकता है जिसमें सम्पूर्ण जनता...
Continue reading »

Hindi Essay on “Dharmnirpekshta” , ”धर्म-निरपेक्षताः” Complete Hindi Essay for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
धर्म-निरपेक्षताः मजहब नहीं सिखाता आपस में वैर रखना Dharmnirpekshta : Majhab nahi sikhata aapas me bair rakhna                   ’धर्म-निरपेक्षता’ शब्द सर्वप्रथम प्रचलन में यूरोपीय देशों में आया। यूरोप में एक समय ऐसा भी था जब धर्म गुरूओं के दमन-च्रक में साधारण जनता पिस रही थी। फलतः उन देशों में क्रांति के द्वारा धार्मिक तानाशाही को खत्म किया गया। लोगों ने तदनन्तर जीवन के प्रति तर्कसंगत और वैज्ञानिक दृष्टिकोण स्वीकार किया।...
Continue reading »

Hindi Letter “Doordarshan ke Karyakramo ki samiksha karte hue patra likhiye”,”दूरदर्शन के महानिदेशक को दूरदर्शन के कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए एक पत्र लिखिए”.

दूरदर्शन के महानिदेशक को दूरदर्शन के कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए एक पत्र लिखिए।   सेवा में,   महानिदेशक दूरदर्शन केन्द्र नई दिल्ली।     विषय:    दूरदर्शन के कार्यक्रमों की समीक्षा। महोदय, निवेदन है कि मैं दूरदर्शन के कार्यक्रमों का नियमित दर्शक हूँ। दूरदर्शन पर आजकल अनेक धारावाहिक देखने को मिल रहे हैं। इनमें अनेक सीरियल जैसे- बालिका वधू, लाडो आदि कार्यक्रम उद्देश्यपूर्ण हैं। ये कार्यक्रम सामाजिक बुराइयों पर चोट कर...
Continue reading »

Hindi Letter “Rail me khane ke milavati saman ki Samasya ke liye Adhikshak ko Patra ”,”रेल में खाने के मिलावटी सामान की समस्या के लिए अधीक्षक को पत्र”.

रेल यात्रा के दौरान साधारण श्रेणी के यात्रियों एवं चलती गाड़ियों में मिलने वाली खान-पान की सामग्री संतोषजनक नहीं होती। इस समस्या की ओर अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट करने के लिए अधीक्षक, खान-पान विभान, रेल भवन, नई दिल्ली के नाम पत्र लिखिए।   सेवा में,   अधीक्षक, खान-पान विभाग, रेल भवन, नई दिल्ली।   विषय: रेल यात्रियों को मिलने वाली खान-पान की सामग्री का घटिया स्तर महोदय, मैं आपका ध्यान रेल-यात्रा...
Continue reading »

Hindi Letter “Khadya Padartho me milavat ki samasya ke liye aayukt ko patra”,”खाद्य पदार्थो में मिलावट की समस्या के लिए आयुक्त को पत्र”.

खाद्य पदार्थो में विशेषतः दूध और दूध से बनी वस्तुओं में मिलावट की समस्या विकट रूप धारण करती जा रही है। आपने प्रांत/नगर के खाद्य विभाग के आयुक्त को पत्र लिखकर उचित कार्यवाही के लिए अनुरोध कीजिए।   सेवा में,     आयुक्त महोदय, खद्य विभाग, जयपुर   विषयः खद्य-पदार्थो में मिलावट   मान्यवर, मैं आपका ध्यान जयपुर शहर में खद्य-पदार्थों विशेषताः दूध और दूध से बनी चीजों में मिलावट की...
Continue reading »