Home » Languages » Archive by category "Hindi (Sr. Secondary)" (Page 3)

Hindi Essay/Paragraph/Speech on “Kagaji  aur Plastic Yug”, “कागजी युग  और प्लास्टिक युग” Complete Essay, Speech for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
कागजी युग  और प्लास्टिक युग Kagaji  aur Plastic Yug   परिवर्तन संसार का नियम है, और संसार एक चक्र की तरह है जो चक्कर लगाता रहता है। न थकता है नथकाता है। मनुष्य अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए कुछ भी कर सकता है। सभ्यता के विकास चक्र में पहले ताम्र युग, लौह युग आदि का दौर चलता रहा। वैज्ञानिक प्रगति से हम प्लास्टिक युग तक पहुँच गए। वर्तमान समय में...
Continue reading »

Hindi Essay/Paragraph/Speech on “Tsunami Prakritik Aapada”, “प्राकृतिक आपदा के रूप में सुनामी” Complete Essay, Speech for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
प्राकृतिक आपदा के रूप में सुनामी Tsunami Prakritik Aapada   प्राकृतिक आपदा का अर्थ होता है प्राकृतिक रूप से किसी तरह की कोई विपत्ति का आना। फिर चाहे वह सुनामी के रूप में हो, भूकंप के रूप में, बाढ़ के रूप में या फिर सूखे के रूप में वह किसी भी प्रकार की विपदा हो सकती है।   सीधे तौर पर अगर हम किसी भी प्राकृतिक आपदा की सतह पर जाँच...
Continue reading »

Hindi Essay/Paragraph/Speech on “Mobile Phone ke Phayade evm Nuksan”, “मोबाइल फोन : फायदे व नुकसान” Complete Essay, Speech for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
मोबाइल फोन : फायदे व नुकसान Mobile Phone ke Phayade evm Nuksan   किसी ने सच ही कहा है कि मानव क्या नहीं कर सकता। आज से कुछ वर्ष। पूर्व किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी कि हर एक कि जेब में फोन होगा। हमारी टैक्नोलॉजी इतनी तेजी से आगे बढ़ रही है कि मानों पलक झपकते ही विज्ञान का। एक नया अद्भुत वरदान हमारे सामने होता है। यहाँ हर...
Continue reading »

Hindi Essay/Paragraph/Speech on “Global Warming”, “ग्लोबल वार्मिंग” Complete Essay, Speech for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

patra lekhan
ग्लोबल वार्मिंग Global Warming जब G-8 का शिखर सम्मेलन हुआ था, तो उसमें ग्लोबल वार्मिंग सबसे बड़ा मुद्दा रहा था।   ग्लोबल वार्मिंग का अर्थ हम उसके नाम से ही ग्लोबल (दूनियाँ) वार्मिंग (उबलना) अर्थात् दुनियाँ में किसी तरह का उबाल आना, नदियों का सूख जाना, कई प्राकृतिक आपदाओं का आना आदि कह सकते हैं। जब सन् 2007 को ब्रूसेल्स में जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र संघ के अंतर्राष्ट्रीय पैनल की...
Continue reading »

Hindi Essay/Paragraph/Speech on “Bal Diwas”, “बाल दिवस” Complete Essay, Speech for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
बाल दिवस Bal Diwas जैसा कि नाम से ही ज्ञात होता है वह दिन जिसे बालकों (बच्चों) के नाम किया गया हो। बाल दिवस का मतलब भी वही है कि इस दिन देश के सभी बच्चों के हित के बारे में  सोचें।। प्रति वर्ष 14 नवंबर को यह राष्ट्रीय पर्व मनाया जाता है। इसी दिन हमारे पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू जी का जन्म भी हुआ था। जवाहर लाल नेहरू...
Continue reading »

Hindi Essay/Paragraph/Speech on “Shikshak Diwas”, “शिक्षक दिवस” Complete Essay, Speech for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi Essays
शिक्षक दिवस Shikshak Diwas   शिक्षक दिवस, छात्रों द्वारा अपने अध्यापकों के सम्मान में मनाया जाता है। इसलिए भी तो हमारे भारत देश को गुरुओं-शिक्षकों का देश भी कहा जाता है। संस्कार अगर किसी को देखना हो तो वह हमारे भारत वर्ष में आकर देख सकता है। बदलते परिवेश के साथ ही शिक्षा के मायने भी बदल चुके हैं, आजकल संसार के अन्य देशों की भांति हमारे भारतवर्ष में भी शिक्षा...
Continue reading »

Hindi Application “Vidhyut Vibhag ko Vidhyut sankat se pareshani patra ”,”विद्युत विभाग को विद्युत संकट से परेशानी पत्र” Hindi Letter for Class 10, 12.

patra lekhan
विद्युत विभाग को विद्युत संकट से परेशानी पत्र Vidhyut Vibhag ko Vidhyut sankat se pareshani patra  सेवा में, श्रीमान प्रबंधक महोदय, एन.डी.पी.एल. दिल्ली। विषय : विद्युत संकट से परेशानी महोदय, मैं इस एत्र के द्वारा आपका ध्यान दिल्ली में बिजली संकट से उत्पन्न कई कठिनाइयों की ओर आकर्षित कराना चाहता हूँ। दिल्ली की भयंकर गर्मी और  ऊपर से बिजली संकट के कारण दिल्ली निवासियों का जीना दूभर हो गया है। बिजली...
Continue reading »

Hindi Application “Nagarpalika ko sadako ki durdasha ke vishay me patra ”,”नगरपालिका को सड़कों की दुर्दशा के विषय में पत्र” Hindi Letter for Class 10, 12.

patra lekhan
नगरपालिका को सड़कों की दुर्दशा के विषय में पत्र Nagarpalika ko sadako ki durdasha ke vishay me patra  सेवा में, श्रीमान अधिशाषी अधिकारी, नगरपालिका परिसर, सुल्तानपुर। विषय : सड़कों की दुर्दशा के विषय में महोदय निवेदन है कि नगर की विभिन्न सड़कें अत्यंत जर्जर और ऊबड़-खाबड़ हो गई हैं जिससे वाहनचालकों को काफी परेशानी उठानी पड़ती है। अतः अनुरोध है। कि इस संबंध में ध्यान देकर सड़कों की दशा सुधारते हेतु...
Continue reading »