Home » Languages » Archive by category "Hindi (Sr. Secondary)" (Page 2)

Hindi Essay on “Rupye ki Aatma Katha”, “रुपये की आत्म-कथा” Complete Hindi Nibandh for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
रुपये की आत्म-कथा Rupye ki Aatma Katha विषय प्रवेश : रविवार का दिन था। कार्यालय से छुट्टी थी। मैं लान में बैठा समाचारपत्र देख रहा था। मेरे समीप ही श्रेय बैठा हिसाब का काम कर रहा था। सहसा वह पूछ उठा कि रुपया कैसा होता है बाबा जी? मैं किसी विशेष समाचार को पढ़ने में तल्लीन था। उसकी ओर। ध्यान न दे सका। लेकिन मेरी चुप्पी तीन वर्षीय बच्चे की जिज्ञासा...
Continue reading »

Hindi Essay, Biography on “Maharana Pratap”, “महाराणा प्रताप” Complete Hindi Nibandh for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
महाराणा प्रताप Maharana Pratap प्रस्तावना : राष्ट्रपुरुष महाराणा प्रताप ने उस समय स्वतंत्रता-स्वाधीनता का एक महान् आदर्श स्थापित किया था जब मुग़ल साम्राज्य के बढ़ते वर्चस्व के सामने भारत के सभी छोटे-बड़े राज्य नतमस्तक होते जा रहे थे। आपने तरह-तरह के कष्ट सहते हुए, त्याग और बलिदान की कठिन राहों पर चलते हुए, अपना मस्तक गर्व से उन्नत रखा था तथा आने वाली पीढियों का मार्ग प्रशस्त किया था। इसीलिए आप...
Continue reading »

Hindi Essay, Biography on “Mother Teresa”, “मदर टेरेसा” Complete Hindi Nibandh for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
मदर टेरेसा Mother Teresa  प्रस्तावना : प्रेम मानव की ऐसी सर्वोत्तम भावना है जो मानव को सच्चा मानव बनाती है। मानवता के प्रति प्रेम को किसी देश, जाति या धर्म की संकुचित परिधि में नहीं बाँधा जा सकता। जिस व्यक्ति के मन में ममता, करुणा की भावना हो, वह अपना समस्त जीवन मानव की सेवा करने में अर्पित कर देता है। विश्व में मानव की नि:स्वार्थ भाव से सेवा करने वाली...
Continue reading »

Hindi Essay, Biography on “Jawahar Lal Nehru”, “जवाहरलाल नेहरू” Complete Hindi Nibandh for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
जवाहरलाल नेहरू Jawahar Lal Nehru प्रस्तावना : सारा जगत् नश्वर है। इसमें असंख्य प्राणी आए और चले गए। कोई उनके नाम से परिचित नहीं, कोई उन्हें स्मरण नहीं करता । केवल उनके सगे-सम्बन्धी आगमन पर खुश हुए और गमन पर कुछ दिन के लिए दु:खी। फिर वही क्रम चलता रहा। सब अपने कर्मों में उलझ गए और धीरे-धीरे स्मृति भी मानस पटल पर से उतरती चली गई। किन्तु ऐसी विभूतियाँ भी...
Continue reading »

Hindi Essay on “Atal Bihari Vajpayee”, “प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी” Complete Hindi Nibandh for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी Atal Bihari Vajpayee जन्म एवं शिक्षा : भारतीय जनमानस की आस्था के केन्द्र, लोकप्रिय नेता, जननायक श्री अटल बिहारी वाजपेयी ने भारत के 14 वे प्रधानमंत्री के रूप में 19 मार्च 1998 को पद भार ग्रहण किया। श्री वाजपेयी का जन्म कविवर श्रीकृष्ण बिहारी वाजपेयी के यहाँ 25 दिसम्बर 1924 को ग्वालियर में हुआ था। इन्होंने ग्वालियर के विक्टोरिया कॉलेज (वर्तमान लक्ष्मीबाई कॉलेज) तथा कानपुर के...
Continue reading »

Hindi Essay on “Dr. K.R. Narayan”, “राष्ट्रपति डॉ० के० आर० नारायणन” Complete Hindi Nibandh for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

राष्ट्रपति डॉ० के० आर० नारायणन Dr. K.R. Narayan प्रस्तावना : राष्ट्रपति का पद गरिमा का पद है। इस पद को भारत के दसवें राष्ट्रपति डॉ० के० आर० नारायणन सुशोभित कर रहे हैं। दलित जाति और निर्धन परिवार से सम्बन्धित होने पर भी आप भारतीय ऊर्जस्वित मनस्विता के सजीव प्रतीक एवं परिचालक हैं। आपने 25 जुलाई 1997 को भारत के राष्ट्रपति पद की शपथ ग्रहण की। आप लम्बे समय तक कई पदों।...
Continue reading »

Hindi Essay on “Mahatma Gandhi Bapu”, “महात्मा गाँधी बापू ” Complete Hindi Nibandh for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
महात्मा गाँधी बापू  Mahatma Gandhi Bapu जन्म, वंश परिचय और शिक्षा- जब 19 वीं सदी की साँझ थी, 2 अक्तूबर 1869 को पोरबन्दर के दीवान की कोठी में इस युग में क्या, युग युगों के महानतम व्यक्तित्व ने प्रथम बार अपनी पलकें खोलीं। वे थे विश्ववन्द्य बापू। उनका पूरा नाम था मोहनदास कर्मचन्द गाँधी। वैभव और सम्पन्नता के शैशव में वे शिशु से किशोर हुए। जबकि वे अध्ययन में लगे हुये...
Continue reading »

Hindi Essay on “Parhit Saris Dharam nahi Bhai”, “परहित सरिस धर्म नहिं भाई” Complete Hindi Nibandh for Class 10, Class 12 and Graduation and other classes.

Hindi-Essay-Hindi-Nibandh-Hindi
परहित सरिस धर्म नहिं भाई Parhit Saris Dharam nahi Bhai प्रस्तावना : पशुता के बाद जब हमने मनुष्यता के क्षेत्र में पदार्पण किया, तो सर्वप्रथम सभी जाति और देश के मनीषियों ने मनुष्यता की रक्षा लिए और इसे अधिक से अधिक सुन्दर बनाने के लिए अनेक प्रकार के गुणों तथा अनेक प्रकार के सिद्धान्तों का निरूपण किया। हम किस प्रकार पशुता के ऊपर उठकर मानवता के उच्च धरातल पर पहुँच जाएँ।...
Continue reading »